Monday, September 29, 2008

सेंसेक्स गिर रहा हे

सेंसेक्स गिर रहा हे
विश्व बाज़ार में आर्थिक सुनामी
यु स सीनेट में बैल आउट खारिज
टेकनिकली बाज़ार ओवर सोल्ड हे
मैंने सोचा फंडामेंटली क्या हो रहा हे
कुछ तो गणित होगा
तो मेने नया फार्मूला इजाद किया
क्या आप लोग सहमत हे
सेंस समानुपात सेक्स
इसलिए सेंस = के सेक्स
जहाँ के कोंनसटेंट
नॉट वोलाटाइल,
जब सेंस बढ़ता हे
बाज़ार बड़ता हे
और जब सेक्स बड़ता हे
बाज़ार गिरता हे
मार्केट का मूड
बीबी या प्रेमिका जैसा हे
जैसा सोचो होता नही

11 comments:

ताऊ रामपुरिया said...

मार्केट का मूड
बीबी या प्रेमिका जैसा हे
जैसा सोचो होता नही

आज तो बड़ी ज्ञान दायक सीख दे रहे हैं मकरंद सर ? :)

भूतनाथ said...

अति उत्तम रचना ! ज़रा शेयर बाज़ार से दूर ही रहें तो अच्छा है !

फ़न्डेबाज said...

सेंसेक्स गिर रहा हे
विश्व बाज़ार में आर्थिक सुनामी

bahut achchhi rachanaa !

rukka said...

क्या खूब लिखा है आपने ! बधाई !

दीपक "तिवारी साहब" said...

क्या आप लोग सहमत हे
सेंस समानुपात सेक्स
इसलिए सेंस = के सेक्स
जहाँ के कोंनसटेंट

बहुत सुंदर कलपना है ! धन्यवाद आपको !

mahabharat said...

very good

डॉ .अनुराग said...

सही फार्मूला है भाई......नोबेल पायोगे ...

Smart Indian - स्मार्ट इंडियन said...

मकरंद भाई, आपके नये फोर्मूले की खोज पर बधाई!

राज भाटिय़ा said...

सेंसेक्स गिरे उठे हमे कोई फ़र्क नही, अपने हाथ जगन्न नाथ.
धन्यवाद ज्ञान दायक सीख देने के लिये.

प्रदीप मानोरिया said...

सुंदर मार्मिक
मेरा आमंत्रण स्वीकारें मेरे चिठ्ठे पर भी पधारें

seema gupta said...

मार्केट का मूड
बीबी या प्रेमिका जैसा हे
जैसा सोचो होता नही
" oh my god, is it really so///'

regards