Thursday, November 20, 2008

खोज जारी हें

नये नये अवतार
सजे धजे दरबार
इश्वर लापता हें
खोज जारी हें

रिश्तों के नये आयाम
मीडिया करे व्यायाम
इश्क लापता हें
खोज जारी हे

नये नये ढोर
कर रहे हे शोर
लोकतंत्र लापता हे
खोज जारी हे

नये नये हीरो
नयी नयी हिरोइन
हिट लापता हे
खोज जारी हे

16 comments:

हिमांशु said...

"नये नये ढोर
कर रहे हे शोर
लोकतंत्र लापता हे
खोज जारी हे"
शत प्रतिशत सच.

"बगुले चले हंसों की चाल सुना तुमने
लोहे की तलवार काठ की ढाल सुना तुमने ."

ताऊ रामपुरिया said...

नये नये हीरो
नयी नयी हिरोइन
हिट लापता हे
खोज जारी हे
बहुत बढिया मकरंद सर ! शुभकामनाएं !

Gyan Dutt Pandey said...

अरे बन्धु आजकल ब्लॉग हैं, पोस्ट हैं, पाठक लापता हैं! :)

Akshaya-mann said...

AADMI AADMI KI KHOJ KAR RAHA HAI......
USKA ASTITV LAPATA HAI....
KHOJ JARI HAI.........
BAHUT AACHA LIKHA AAPNE.....
LIKHTE RAHE,..........
KHOJ JARI HAI:)
http://akshaya-mann-vijay.blogspot.com/

seema gupta said...

नये नये अवतार
सजे धजे दरबार
इश्वर लापता हें
खोज जारी हें
" ha ha ha ha kya jmana aa gya, bhagwan bhee apna darbar chod kr gayab rehne lge, strange thought,,,, great"

regards

Shiv Kumar Mishra said...

वाह!
बहुत बढ़िया लिखा है. बहुत कुछ खोता हुआ दीख रहा है. हम केवल खोज जारी ही रख सकते हैं.

Dr. Nazar Mahmood said...

अच्‍छा लिखा है

मोहन वशिष्‍ठ said...

बहुत अच्‍छा तालमेल मकरंद साहब जी अच्‍छी लगी आपकी कविता

दीपक "तिवारी साहब" said...

रिश्तों के नये आयाम
मीडिया करे व्यायाम
इश्क लापता हें
खोज जारी हे

बहुत बढिया जी ! मिल जाए तो हमें भी ख़बर करिएगा !

PREETI BARTHWAL said...

रिश्तों के नये आयाम
मीडिया करे व्यायाम
इश्क लापता हें
खोज जारी हे

बहुत ही खूब।

आदर्श राठौर said...

बहुत अच्छी प्रस्तुति

सतीश सक्सेना said...

बहुत खूब !

राज भाटिय़ा said...

क्या बात है, खुश कर दिया
धन्यवाद

Dr.Bhawna said...

bahut khub!

रश्मि प्रभा said...

sach kaha....khoj jaari hai

Amarjeet said...

aap to bahut acha likhte hai.